Coaching Institute कैसे शुरू करें? | How To Start Coaching Center in India

शिक्षा हमारे जीवन के लिए कितनी जरूरी है ये तो आप सभी जानते हैं। आज से कुछ साल पहले बहुत से लोग शिक्षा पर उतना ज्यादा ध्यान नहीं देते थे, पर अभी के समय में विद्यार्थी और उनके माता-पिता भी शिक्षा पर काफी ज्यादा ध्यान दे रहे हैं।

हम सभी का अपने जीवन में कुछ ना कुछ लक्ष्य होता है और अगर आपका कोई लक्ष्य नहीं है तो फिर आपका जीवन व्यर्थ है। ऐसा मैं नहीं कह रहा हूं बल्कि दुनिया के बड़े-बड़े विद्वान आदमी का कहना है।

किसी का लक्ष्य आईपीएस बनना है, किसी को डॉक्टर बनना है, तो किसी को बिजनेसमैन बनना है। आप किसी भी लक्ष्य को पाना चाहते हैं तो ऐसे में आपके पास ज्ञान होना आवश्यक है जो कि सिर्फ शिक्षा, अनुशासन और एकाग्रता से मिल सकता है।

अब ऐसे में पढ़ने वाले तो बहुत हैं पर पढ़ाने वालों की कमी है और यही कारण है कि अभी के समय में बहुत से लोग अपना खुद का कोचिंग सेंटर शुरू करना चाहते हैं।

Coaching Centre के माध्यम से आप लोगों को अच्छी शिक्षा दे सकते हैं और इसके साथ ही आप अच्छी कमाई भी कर सकते हैं। तो अगर आप भी उन्हीं में से एक हैं जिन्हें अपना कोचिंग सेंटर बिजनेस शुरू करना है पर पता नहीं है कि कोचिंग सेंटर कैसे खोलें तो यह पोस्ट आपके लिए है।

{tocify} $title={Table of Contents}

कोचिंग सेंटर का व्यापार क्या है? (Coaching Centre Business)

कोचिंग सेंटर बिजनेस कैसे शुरू करें?
कोचिंग सेंटर बिजनेस कैसे शुरू करें?

माता पिता अपने बच्चों को अच्छी शिक्षा प्राप्त करने के लिए स्कूल के अलावा कोचिंग संस्थान में दाखिला करवाते हैं। यहां आपको आपके समस्या के अनुसार पढ़ाया जाता है। आप जिस भी जगह रहते हैं वहां पर भी कहीं ना कहीं आपने कोचिंग सेंटर अवश्य ही देखा होगा।

कोचिंग संस्थान में भी स्कूल की तरह हीं हर क्लास के बच्चों की पढ़ाई अलग-अलग होती है। अब बहुत से लोग कोचिंग संस्थान में इसीलिए भी दाखिला करवाते हैं क्योंकि उन्हें किसी Exam की तैयारी करनी होती है। इससे उनका Result अच्छा आता है।

वहीं बहुत से कोचिंग संस्थान ऐसे भी हैं जो कि सिर्फ खास विषय पर ही पढ़ाई करवाते हैं। कोचिंग संस्थान के जरिए शिक्षा प्राप्त करने के लिए आपको उन्हें उनके Charges यानी Fees देने होते हैं। यह Fees हर Class और Subject की अलग अलग हो सकती है।

सीधी भाषा में बोलूं तो जिस जगह विद्यार्थियों को किसी खास विषय पर शिक्षा प्रदान की जाती है वो कोचिंग संस्थान कहलाता है। अभी के समय में लाखों ऐसे कोचिंग संस्थान है जो कि विद्यार्थी को पढ़ाने के बदले बहुत अच्छी मोटी कमाई कर रहे हैं।

कोचिंग सेंटर कैसे खोलें? - How To Open Coaching Center in Hindi

कोचिंग सेंटर का बिजनेस शुरू करना बहुत ही ज्यादा आसान है, पर फिर भी मैं आपकी जानकारी के लिए यहां पर सभी प्रक्रिया बताने वाला हूं। आपको बता दूं कि कोचिंग सेंटर बिजनेस को आप दो तरह से शुरू कर सकते हैं। पहला आप किसी नामी कंपनी की फ्रेंचाइजी ले लें और कोचिंग सेंटर बिजनेस शुरू करें।

वहीं दूसरा आप खुद के कोचिंग सेंटर की स्थापना करें। इस पोस्ट के जरिए मैं आपको फ्रेंचाइजी लेने के बारे में नहीं बताऊंगा बल्कि अपना खुद का कोचिंग सेंटर कैसे शुरू करें? इसके बारे में बताने वाला हूं। क्योंकि फ्रेंचाइजी के जरिए कोचिंग संस्थान शुरू करना और भी ज्यादा आसान है। 

ऐसा मैं इसीलिए बोल रहा हूं क्योंकि फ्रेंचाइजी बिजनेस में आपको बस पैसे निवेश करने होते हैं। बाकी सब काम कंपनी का होता है।

खुद का कोचिंग सेंटर बिजनेस शुरू करने के लिए सबसे पहले तो आपको एक अच्छा सा बिजनेस प्लान तैयार करना होगा। इसमें आप बहुत से चीजों पर ध्यान दें जैसे कि आप किस स्थान पर इस व्यापार की शुरुआत करना चाहते हैं या करने वाले हैं, संस्थान काम कैसे करेगा, आप इसमें कितने रुपए निवेश कर सकते हैं, विद्यार्थी को अलग क्या मिल सकता है आदि।

मैं आपको बिजनेस प्लान इसीलिए तैयार करने के लिए बोल रहा हूं क्योंकि इसके जरिए आपको पहले से पता रहेगा कि आपको आगे क्या करना है और क्या नहीं करना है। इसके साथ ही आप अपने बिजनेस का एक बैकअप प्लान भी अवश्य तैयार कर लें।

इन पोस्ट को भी पढ़ें :-

👉 स्टूडेंट्स के लिए पार्ट टाइम बिजनेस आइडियाज

👉 टेंपर्ड ग्लास बनाने का बिजनेस कैसे शुरू करें?

कोचिंग सेंटर शुरू करने की प्रक्रिया :-

वैसे तो कोचिंग संस्थान शुरू करने के लिए कोई खास योग्यता नहीं है, पर अगर आपको किसी खास विषय में अच्छी जानकारी है तब आपके लिए ही अच्छा होगा। वहीं अगर आप खुद शिक्षक के तौर पर इस व्यापार को शुरू नहीं कर रहे हैं तो ऐसे में आपको योग्य शिक्षक को Hire करना होगा।

1. कोचिंग सेंटर व्यवसाय के लिए जगह का चयन

इस तरह के बिजनेस के लिए उसकी जगह का महत्व बहुत ही ज्यादा होता है अगर आप कोचिंग सेंटर के बिजनेस को किसी गली मोहल्ले में शुरू कर रहे हैं तो ऐसे में यह बहुत ही ज्यादा मुश्किल होगा कि आप अपने बिजनेस को आगे ले जा पाएंगे।

अब मैं आपको ऐसा भी नहीं बोल रहा हूं कि आप किसी बहुत भीड़-भाड़ वाले इलाके में कोचिंग संस्थान बिजनेस की शुरुआत करें। क्योंकि कोचिंग संस्थान के लिए साफ-सुथरी और शांति वातावरण होना बहुत ही ज्यादा आवश्यक है।

इसके लिए आप किसी स्कूल चौक चौराहे आदि जैसी जगहों पर कोचिंग संस्थान के लिए जगह की तलाश कर सकते हैं। याद रखें कि यहां पर आपको एक और चीज देखनी है और वो है जगह का किराया। अगर जगह का किराया अधिक होगा तो इससे आपको काफी परेशानी होगी।

वहीं अगर आपके घर में अच्छी खासी जगह है या फिर एक खाली कमरा है तब पर भी आप इसे बिना कोई जगह किराए पर लिए अपने घर से कोचिंग संस्थान बिजनेस की शुरुआत कर सकते हैं। 

इससे आपको जगह का किराया भी बचेगा। अगर आप मेरी माने तो शुरुआती समय में अपने घर से हैं कोचिंग सेंटर बिजनेस की शुरुआत करें। बाद में जैसे जैसे आपकी कोचिंग संस्थान में बच्चे बढ़ने लगेंगे और आपकी कमाई होने लगेगी तब आप कोई बड़ी जगह किराए पर ले लें।

2. सभी जरूरी सामानों की खरीदारी करें

जगह किराए पर ले लेने के बाद आपको अपने कोचिंग संस्थान के लिए सभी जरूरी सामानों की खरीदारी करनी होगी। इसके साथ हीं अगर आप कोचिंग संस्थान की शुरुआत कोई जगह किराए पर लेकर कर रहे हैं तो ऐसे में आपको वहां पर थोड़ी बहुत बिजली का भी काम करवाना पड़ सकता है।

विद्यार्थियों के बैठने के लिए आपको बेंच और डेस्क की खरीदारी करनी होगी। वहीं आप चाहे तो बेंच और डेस्क किसी अनुभवी व्यक्ति से बनवा भी सकते हैं। इसके बाद आपको बोर्ड, मार्कर, पेन, वाटर फिल्टर, बुक्स, ऑफिस डेस्क, एक कंप्यूटर आदि खरीदने होंगे जो कि आपको मार्केट में आसानी से मिल जाएंगे।

यह सभी सामान ऑनलाइन भी मिलते हैं। आपको जिस जगह पर कम दाम में अच्छी क्वालिटी मिले आप वहीं से सभी सामान को खरीदने की कोशिश करें। इसके अलावा आप चाहें तो अपने कोचिंग संस्थान में पढ़ाई से संबंधित कुछ कुछ सामान भी रख सकते हैं जैसे Globe, Books, Charts आदि।

3. विषय और शिक्षक का चुनाव करें

अब जब आपने कोचिंग संस्थान के लिए जगह और उसमें इस्तेमाल किए जाने वाले सभी जरूरी सामान की खरीदारी कर ली है तब आपको उस विषय का चुनाव करना होगा जिसे आप अपने विद्यार्थियों को पढ़ाना चाहते हैं। अब अगर आप खुद शिक्षक के तौर पर इस बिजनेस को शुरू कर रहे हैं तब आपको पता होगा कि आप किस विषय में सबसे अच्छे हैं यानी कि आपको सबसे अच्छी जानकारी किस विषय में है।

वहीं अगर आप शिक्षक को Hire करके कोचिंग सेंटर व्यापार की शुरुआत कर रहे हैं तब आप शिक्षक से सभी जानकारी हासिल कर ले जैसे कि आपके Hire किए गए शिक्षक कौन-कौन से विषय विद्यार्थी को पढ़ा सकते हैं? आप चाहें तो सभी विषय को भी अपने कोचिंग संस्थान में पढ़ा सकते हैं।

फिर जैसे जैसे आपको ऐसा लगने लगे कि विद्यार्थी सिर्फ किसी एक विषय पर पढ़ने में दिलचस्पी दिखा रहे हैं तो आप उस विषय के शिक्षक को भी तनख्वाह पर रख लें। इसके साथ ही आपको यह भी तय करना होगा कि आप कौन कौन से क्लास के विद्यार्थियों को पढ़ा सकते हैं और पढ़ाना चाहते हैं।

अगर आप को शिक्षक के तौर पर काफी ज्यादा अनुभव नहीं है तो शुरुआती समय में आप जूनियर क्लास के बच्चों को पढ़ाने से शुरू करें। फिर जैसे-जैसे आपको अनुभव मिलने लगे आप सीनियर क्लास के बच्चों को भी पढ़ा सकते हैं।

• यहां पर मैं आपको बता देना चाहता हूं कि हर क्लास के विद्यार्थियों की Fees अलग-अलग होती है जो कि आपको अपने हिसाब से तय करनी होगी।

• अगर आप यह तय नहीं कर पा रहे हैं कि कौन से क्लास की कितनी फीस ली जाए तो ऐसे में आप अपने इलाके के बाकी कोचिंग संस्थान से थोड़ी बहुत Idea ले सकते हैं।

• शिक्षक का चुनाव करते वक्त आप उनसे उनकी तनख्वाह के बारे में भी अवश्य बात कर लें। क्योंकि कई बार शिक्षक बहुत ज्यादा रुपए तनख्वाह के रूप में मांगते हैं और शुरुआती समय में आपके लिए यह बहुत ही ज्यादा मुश्किल होगा।

• शिक्षक को काम पर रखते वक्त आप इस बात की पुष्टि अवश्य कर लें कि वो बच्चों को सही शिक्षा दे भी सकते हैं या फिर नहीं। इसके साथ ही आप तनख्वाह पर रख रहे शिक्षक से सभी जरूरी दस्तावेज भी अवश्य ले लें।

4. कोचिंग संस्थान का पंजीकरण कराएं

वैसे तो अगर आप कोचिंग सेंटर बिजनेस की शुरुआत एक छोटे स्तर पर कर रहे हैं यानी कि अपने घर से या फिर कोई छोटी-मोटी जगह किराए पर लेकर तब आपको कोई भी रजिस्ट्रेशन और लाइसेंस लेने की आवश्यकता नहीं है। पर अगर आप इसे थोड़े बड़े स्तर पर कर रहे हैं तब आपको जरूरी रजिस्ट्रेशन और लाइसेंस अवश्य लेना होगा।

कोचिंग सेंटर व्यापार के लिए आपको बिजनेस लाइसेंस लेना होगा। साथ ही आपको कर (Tax) भी भुगतान करने होंगे। वहीं अगर आपके संस्थान से होने वाला लाभ साल में 9 लाख से अधिक है तब आपको बिजनेस रजिस्ट्रेशन अवश्य करवाना होगा।

साथ ही मैं आपको यह भी बता देना चाहता हूं कि अगर आप किसी कंपनी यानी कि कोई फ्रेंचाइजी के साथ इस बिजनेस को शुरू कर रहे हैं तब रजिस्ट्रेशन और लाइसेंस की प्रक्रिया अलग होगी। इसकी जानकारी आपको Company द्वारा मिल जाएगी।

इसके अलावा आपको इलाके के निरीक्षक से Shops and Establishments Licence भी लेना होगा जिसके लिए आपको Address Proof, Pan Card, Adhar या Voter ID Card एवं Fee Reciept की आवश्यकता पड़ सकती है।

अधिक जानकारी के लिए आप अपने इलाके के किसी और कोचिंग संस्थान के मालिक से मिल सकते हैं। कोचिंग सेंटर व्यापार के लिए रजिस्ट्रेशन और लाइसेंस की प्राप्ति हो जाने से आपका संस्थान प्रतिष्ठित हो जाता है। जिससे विद्यार्थी के माता पिता को आप पर और आपकी कोचिंग संस्थान पर पूरा भरोसा कर सकेंगे।

इन पोस्ट को भी पढ़ें :-

👉 Meesho से घर बैठे पैसे कैसे कमाएं?

👉 Micro Niche Blog बनाकर पैसे कैसे कमाएं?

5. कोचिंग सेंटर बिजनेस से होने वाली कमाई

Profit in Coaching Center Business : Coaching Centre एक ऐसा बिजनेस है जिसमें कमाई बहुत हद तक आपके कोचिंग सेंटर में आने वाले छात्रों और आप पर निर्भर करता है। सीधी भाषा में बोलो तो आपके कोचिंग सेंटर में जितने ज्यादा छात्र आएंगे आपकी कमाई उतनी ज्यादा हो सकती है। 

आप विद्यार्थी से Subject और Class के अनुसार पैसे चार्ज कर सकते हैं। अब यहां पर एक बात ध्यान में रखें कि आपको शुरुआती समय में अधिक फीस नहीं लेनी है। बल्कि आप कोशिश करें कि कम से कम फीस में बच्चों को शिक्षा दें। फिर जैसे जैसे आपका बिजनेस अच्छा चलने लगे आप फीस में थोड़ा सा इजाफा करें।

आपकी जानकारी के लिए बता दूं कि एक कोचिंग संस्थान से महीने के कम से कम ₹20,000 तक की कमाई आसानी से की जा सकती है। वही कमाई के बारे में मैंने आपको ऊपर भी बताया है कि यह आप पर निर्भर करता है। समय के साथ-साथ आपकी कमाई में इजाफा होगा पर इसके लिए आपको संयम रखना होगा।

आप बच्चों को Batch के हिसाब से पढ़ाएं। जिससे कि आप ज्यादा से ज्यादा बच्चों को शिक्षा दे सकें और इससे आपकी कमाई में भी इजाफा हो सकेगा। हालाकि Batch में बच्चों को पढ़ाने के लिए आपको एक या दो शिक्षक अवश्य रखने होंगे वरना आप खुद परेशान हो जाएंगे।

कोचिंग सेंटर शुरू करने के लिए कितने रुपए निवेश करने होंगे?

Investment in Coaching Center Business : कोचिंग सेंटर व्यवसाय से होने वाली कमाई भी बहुत हद तक आप पर ही निर्भर करती है कि आप इसे कितने बड़े स्तर पर और किस जगह से शुरू कर रहे हैं। अगर आप कोचिंग संस्थान का व्यापार अपने घर से शुरू कर रहे हैं तो ऐसे में आपको बहुत ज्यादा रुपए निवेश करने की आवश्यकता नहीं है।

हालांकि घर से भी इस बिजनेस की शुरुआत करने के लिए आपको थोड़ी बहुत इंटीरियर और बिजली का काम कराना पड़ेगा जिसमें आपको पैसे खर्च होंगे। कुल मिलाकर देखा जाए तो एक कोचिंग सेंटर बिजनेस की शुरुआत करने के लिए आपको ज्यादा से ज्यादा ₹70000 तक निवेश करना पड़ेगा।

यह आंकड़ा मैंने अपने शहर के हिसाब से बताया है जो कि आपके शहर के हिसाब से घट या बढ़ सकते है। अगर आपके पास इस व्यापार की शुरुआत करने के लिए पैसे नहीं हैं तो ऐसे में आप बैंक या फिर किसी व्यक्ति से लोन भी ले सकते हैं जो कि मेरे ख्याल से ज्यादा मुश्किल नहीं होगी।

भारत में यह व्यापार सबसे ज्यादा कमाई वाला बिजनेस में से एक है। अब आप खुद ही सोचिए कि अगर आप इतने कम रुपए निवेश करके महीने के ₹25000 शुरुआती में कमा सकते हैं तो यह कितना अच्छा व्यापार है। अभी के समय में ज्यादातर कम उम्र के लोग ही इस बिजनेस को शुरू कर रहे हैं और बहुत अच्छी कमाई कर रहे हैं।

कोचिंग सेंटर बिजनेस का प्रचार कैसे करें?

किसी भी व्यापार की शुरुआत करने के बाद यह बहुत ही ज्यादा आवश्यक होता है कि आप उसकी सही तरीके से प्रचार प्रसार करें। अगर आप कोई बिजनेस शुरू करते हैं और उसके बारे में कोई भी व्यक्ति जानता ही नहीं है तो वह आप तक कैसे पहुंचेगा। 

अपने कोचिंग सेंटर का प्रचार करने के लिए आप जगह-जगह चौक चौराहे, गली मोहल्ले में बैनर और पोस्टर लगवा सकते हैं। इसके साथ ही आप लोगों को अखबार के माध्यम से पेंपलेट बांटने बिल्कुल भी ना भूलें क्योंकि ये आपके बिजनेस को ज्यादा से ज्यादा विद्यार्थियों तक पहुंचाने में मदद करेगा।

इसके साथ ही आप ऑनलाइन तरीकों की मदद से भी अपने कोचिंग सेंटर का प्रचार कर सकते हैं। इसके लिए आपको गूगल मैप्स, जस्ट डायल आदि का सहारा लेना होगा। इसके अलावा आप चाहे तो गूगल एड्स के माध्यम किसी भी लोकेशन के लिए Ads चला सकते हैं।

और अंतिम में अगर आप अपने बिजनेस का मुफ्त में प्रचार करना चाहते हैं तो अपने विद्यार्थी को अच्छी शिक्षा दें। इससे एक विद्यार्थी दूसरे विद्यार्थियों को आपके कोचिंग संस्थान तक पहुंचाएगा। बाकी अगर आप बिजनेस का प्रचार करने का तरीका विस्तार में जानना चाहते हैं तो आप हमारे इस पोस्ट को पढ़ें।

👉 अपने बिजनेस का प्रचार कैसे करें?

देखिए दोस्तों कोचिंग संस्थान एक कम लागत वाला बिजनेस है पर निवेश के हिसाब से देखें तो इस व्यापार से आप अच्छी कमाई कर सकते हैं। बाकी बिजनेस में मैं आपको कितना भी बता दूं बिजनेस चलाना आप ही को है और यह बहुत हद तक आप पर ही निर्भर करता है कि आप अपने बिजनेस को किस प्रकार चला रहे हैं।

शुरुआती समय में तो किसी के पास भी बिजनेस का अनुभव नहीं होता या फिर किसी भी काम का अनुभव नहीं होता है। समय के साथ साथ ही अनुभव मिलता है। हालांकि मैं आपको इतना विश्वास दिला सकता हूं कि अगर आप हमारे द्वारा बताए गए कोचिंग सेंटर कैसे शुरू करें की जानकारी अच्छे से समझते हैं तो आप अपना बिजनेस सफल बना सकते हैं।

इन पोस्ट को भी पढ़ें : -

👉 भारत में सबसे अधिक कमाई वाला बिजनेस

👉 हवाई चप्पल बनाने का बिजनेस कैसे करें?

👉 घर से ऑनलाइन बिजनेस कैसे शुरू करें?

👉 Tshirt प्रिंटिंग का बिजनेस कैसे करें?

Mohit Sinha

हैलो, मेरा नाम मोहित सिन्हा है। मैं इस (Business Ideas Hindi) ब्लॉग का Founder हूं। मुझे बिजनेस के क्षेत्र में काफी अच्छी जानकारी है और इस ब्लॉग के माध्यम से मैं आप तक Business और Make Money से संबंधित पोस्ट साझा करता हूं। आपसे विनती है कि अपना प्यार हम पर बनाएं रखें और इसी तरह ब्लॉग पर आते रहें। #businessideashindi facebook youtube telegram

एक टिप्पणी भेजें

कमेंट करें

और नया पुराने