रेडीमेड कपड़े की दुकान कैसे खोलें? | Readymade Garments Business In Hindi

रेडीमेड कपड़े की दुकान कैसे खोलें | Readymade Garments Business In Hindi

आज के समय में भारत में लाखों-करोड़ों रेडीमेड गारमेंट्स शॉप हैं। ज्यादा प्रॉफिट मार्जिन होने के कारण ज्यादातर लोग इस व्यापार में आ चुके हैं। पर व्यापार शुरू करना हीं सब कुछ नहीं होता है। इसे अच्छे से चलाना होता है एवं एक सफल बिजनेस में तब्दील करना होता है और यही बात बहुत से लोगों को नहीं पता है। 

इसीलिए आज की इस पोस्ट में मैं आपको एक सफल रेडीमेड कपड़े की दुकान कैसे शुरू करें? (Readymade Garments Business In Hindi) बताने वाला हूं। 

कपड़ा हर व्यक्ति की जरूरत है। फिर चाहे वो अमीर हो या गरीब वो अपने बजट के अनुसार कपड़ों की खरीदारी करते हैं। तो ऐसे में अगर आप एक कपड़े की दुकान खोलने के बारे में सोच रहे हैं तो आपके मन में बहुत से सवाल आ रहे होंगे जैसे क्या 2021 में कपड़े की दुकान खोलना फायदेमंद होगा?, कपड़े की दुकान खोलने में कितना खर्च आता है? आदि। 

तो चले बिना देरी किए इस पोस्ट को शुरू करते हैं जहां आज आप जानेंगे कपड़े की दुकान कैसे खोलें? (How To Start a Garments Shop In Hindi)

मार्केट में कपड़ों की डिमांड :-

भारत तथा बाहर के देशों में भी बूढ़े बच्चे जवान आदि सभी के कपड़े अलग-अलग होते हैं जिन्हें हम मौसम के हिसाब से पहनते हैं जैसे ठंड के मौसम में शरीर को गर्म रखने वाले कपड़े, वहीं गर्मी के मौसम में शरीर को ठंडक पहुंचाने वाले कपड़े। 

इन कपड़ों के अलावा और भी बहुत सारे कपड़े होते हैं जिनकी खरीदारी हम अक्सर करते हैं जैसे पार्टी में जाने के लिए अलग कपड़े, घर में पहनने के लिए अलग कपड़े, वहीं ऑफिस जाने के लिए अलग कपड़े। 

भारत में सबसे ज्यादा कपड़ों के विक्रय किसी त्यौहार में होती है जैसे होली, दीपावली, दशहरा आदि। इन सभी त्योहारों में कपड़ों का व्यापार बहुत ही ज्यादा मुनाफा कमाता है और यही कारण भी है कि लोग आज के समय में इस व्यापार में अपना हाथ आजमा रहें हैं।

यह सभी बातें मैं आपको इसलिए बता रहा हूं क्योंकि इससे आपको अंदाजा लग जाएगा की कपड़ों की डिमांड मार्केट में हमेशा रहने वाली है और यह बात शायद आप भी जानते हैं। उम्मीद है अब आपके मन में कोई संदेह नहीं होगा कि 2021 में रेडीमेड कपड़े की दुकान खोलनी चाहिए या नहीं?

रेडीमेड कपड़े की दुकान कैसे खोलें? - Readymade Garments Business In Hindi

रेडीमेड कपड़े की दुकान कैसे खोलें?
रेडीमेड कपड़े की दुकान कैसे खोलें?

वैसे तो यह व्यापार ऊपरी मन से हमें बहुत ही अच्छा और फायदेमंद लगता है पर क्या आप जानते हैं अगर आप इस व्यापार को बिना किसी प्लानिंग और सूझबूझ के करते हैं तो ज्यादा Chance है कि आप इस व्यापार में सफल नहीं होंगे। आपने भी बहुत से कपड़ों की दुकान में देखा होगा कि पूरे दिन में उनकी दुकान पर 5-10 ग्राहक से ज्यादा नहीं आते हैं।

तो अब आपको समझ में आ गया होगा कि कपड़ों की दुकान का बिजनेस हो या कोई और बिजनेस, प्लानिंग बहुत हीं जरूरी है। यहां हमने आपको कुछ Points बताई है जिन्हें फॉलो करके आप आसानी से एक सफल रेडीमेड कपड़े की दुकान शुरू कर सकते हैं। 

इसकी वजह यही होती है कि उन्होंने सही प्लानिंग और सूझबूझ के साथ काम नहीं किया होता है। वहीं आपको कई बार ऐसे भी दुकान देखने को मिलते हैं जहां पर रोजाना बहुत सारे ग्राहक आते हैं तथा उन्हें काम से छुट्टी हीं नहीं मिलती है। 

👉 गांव में शुरू करने के लिए बिजनेस आइडियाज 

कपड़ों की दुकान का बिजनेस प्लान :-

जैसा कि मैंने अभी आपको बताया किसी भी व्यापार के लिए उसका बिजनेस प्लान बनाना बहुत ही जरूरी होता है। बिजनेस प्लान बनाते वक्त आपको कुछ बातों पर ध्यान देना है जैसे आप कितने रुपए निवेश कर सकते हैं?, आप सामान कहां से खरीदेंगे?, आप कैसे कपड़े बेचेंगे सिलाई हुए या रेडीमेड?, आपके Target Customer कौन-कौन हैं, क्या आप शुरुआती समय में स्टाफ रखेंगे? आदि

इन सभी बातों को कपड़ों की दुकान का बिजनेस प्लान बनाते वक्त ध्यान में रखना है। बिजनेस प्लान पहले बना लेने से आपको यह फायदा होगा कि आने वाले समय में अगर आपको कोई भी परेशानी होती है तो उससे निपटने के लिए आप पहले से ही तैयार रहेंगे। 

इन सभी बातों के जवाब जानने के लिए आप एक बार मार्केट में सर्वे कर सकते हैं। जो इस व्यापार में पहले से हैं आप उनसे सहायता ले सकते हैं। इसके अलावा आपको अपने आप से यह पूछना है कि आप अपनी दुकान में ऐसा क्या बेच सकते हैं कि जो बाकी दुकानदार नहीं बेच रहे हैं। आपको कुछ अलग करना है जिससे ग्राहक आपकी दुकान की ओर खींचे चले आएं।

कपड़े की दुकान के लिए सही जगह का चयन :-

गारमेंट्स व्यापार में सफल होने के लिए दुकान की जगह बहुत महत्व रखती है। इसके लिए आपको भीड़भाड़ वाले इलाके में दुकान तलाशनी है जैसे चौक चौराहा, मार्केट कंपलेक्स आदि। सीधे शब्द में बोलूं तो आपको एक ऐसी जगह तलाशनी है जहां आपको लगे कि कपड़े की दुकान खोलना बहुत ही फायदेमंद होगा। 

कपड़े की दुकान के लिए जगह की तलाश करते वक्त आपको एक और बात का ध्यान रखना है कि दुकान के साथ-साथ वहां अगल-बगल कहीं गोडाउन की भी जगह हो। क्योंकि बाद में जब आपकी बिक्री बढ़ेगी तब आपको एक गोडाउन लेने की जरूरत पड़ेगी ही पड़ेगी।

किराए पर दुकान लेते वक्त आपको कुछ और बात का ध्यान रखना है कि दुकान बहुत ज्यादा छोटी ना हो इसके अलावा इसका किराया भी ज्यादा ना हो। आपको अपने बजट के अनुसार हीं दुकान किराए पर लेनी है। 

कपड़े की दुकान खोलने के लिए जरूरी रजिस्ट्रेशन और लाइसेंस :-

किसी भी व्यापार को शुरू करने से पहले जरूरी रजिस्ट्रेशन और लाइसेंस प्राप्त करनी बहुत जरूरत होती है। इससे बाद में जब आपका व्यापार बड़ा हो जाए तब आपको किसी भी तरह की परेशानी का सामना नहीं करना पड़ता है। कपड़े का व्यापार शुरू करने के लिए सबसे जरूरी है जीएसटी लाइसेंस। यह लाइसेंस सभी व्यवसाय के लिए भारत सरकार द्वारा अनिवार्य कर दिया गया है।

इसके बाद आपको अपने म्यूनिसिपालिटी डिपार्टमेंट से ट्रेड लाइसेंस प्राप्त करना होगा। यह बहुत ही जरूरी लाइसेंस है जो आपके व्यापार के लिए अनिवार्य है। इसके अलावा अगर आप कपड़े की दुकान बहुत ही बड़े स्तर पर शुरू कर रहे हैं या चला रहे हैं तो इसके लिए आपको Tin नंबर भी प्राप्त करनी होगी।

👉 पिज्जा हट की फ्रेंचाइजी लेकर लाखो कमाएं

कपड़े की दुकान खोलने में कितना खर्च आता है?

इस व्यापार को बड़े हीं आसानी से कोई भी डेढ़ लाख रुपए से दो लाख रुपए निवेश करके शुरू कर सकता है। इसके बाद जब आपका व्यापार अच्छे से चलने लगे तो इसमें आप और भी ज्यादा रुपए निवेश करके अपने व्यापार को बढ़ा सकते हैं। निवेश की बात करें तो यह आप पर भी निर्भर करता है कि आप किस तरह के कपड़े अपनी दुकान में बेचते हैं।

आपको यहां पर सभी चीजों को जोड़कर एक लिस्ट बनानी है कि मुझे कितने रुपए खर्च करने हैं और खर्च कितना आ रहा है। जैसे आप दुकान का किराया, पगड़ी, कपड़े लाने के लिए कितना निवेश करना है, दुकान के समान में कितना निवेश करना है? इन सभी खर्च को जोड़कर कर भी पता लगा सकते हैं की कपड़े की दुकान खोलने में कितना खर्च होगा?

कपड़ों की Variety :-

रेडीमेड कपड़े की दुकान कैसे खोलें - कपड़े की दुकान शुरू करने से पहले आपको यह बात अपने दिमाग में हमेशा रखनी है कि आपके पास जितने ज्यादा Variety होंगे, Chance है कि ग्राहक भी उतने ज्यादा आएं। इसीलिए शुरुआत मैं आपको Quantity नही Variety पर ध्यान देना है।

हर कपड़ों की दुकान के अपने अपने उसूल हैं। यह आप पर निर्भर करता है कि आप कैसे कपड़े बेचना चाहते हैं। यहां नीचे हमने आपको कुछ कपड़ों के बारे में बताया है जिन्हें आप अपनी कपड़ों की दुकान में बेच सकते हैं।

Kids Wear : आप अपने कपड़े की दुकान में छोटे-छोटे बच्चों के कपड़े बेच सकते हैं। छोटे बच्चों के कपड़ों में प्रॉफिट मार्जिन ज्यादा होती है तथा इनमें ज्यादा झंझट भी नहीं होता है।

Mens Wear : आप पुरुषों के पहनने वाले कपड़ों को अपनी दुकान में बेच सकते हैं जैसे शर्ट, पैंट, जींस, टीशर्ट, कोर्ट, ट्राउजर, अंडरवेयर आदि।

Ladies Wear : महिलाएं कपड़े खरीदने की बहुत ज्यादा शौकीन होते हैं इसीलिए आप महिलाओं के कपड़े भी अपनी दुकान में बेच सकते हैं जैसे सलवार सूट, साड़ी, जींस, अंडरवेयर, कुर्ती, टॉप, लहंगा, चुनरी, दुपट्टा, फ्रॉक आदि। पुरुषों के मुकाबले लेडीजवियर में आपको ज्यादा वैरायटी मिलती है। 

Winter Cloth : आप अपनी दुकान में ठंड के कपड़े भी बेच सकते हैं। लेकिन इस व्यापार को शुरू करने से पहले आपको याद रखना है कि ठंड सिर्फ तीन चार महीने के लिए ही आती है। उसके बाद कोई भी ठंड के कपड़े नहीं खरीदा है। ठंड के मौसम में विंटर क्लॉथस की मांग बहुत ज्यादा बढ़ जाती है। इसमें फायदा भी बहुत ज्यादा है पर यह व्यापार सिर्फ चार-पांच महीने ही जिंदा रहता है।

Summer Cloths : गर्मी में पहनने वाले कपड़ों की डिमांड लगभग हमेशा रहती है। लोग बरसात हो या गर्मी Summer Cloths खरीदते भी हैं और पहनते भी हैं। 

आप चाहे तो इनमें से किसी भी एक Cloth की दुकान शुरू कर सकते हैं। इसके अलावा अगर आप चाहें तो सभी तरह के कपड़े भी अपने अपनी दुकान में बेच सकते हैं। हालांकि सभी तरह के कपड़े अपनी दुकान में रखने के लिए आपको निवेश भी ज्यादा करना होगा। जो शुरुआती समय में मैं आपको बिल्कुल भी नहीं बोलूंगा। 

शुरुआती समय में आप एक या दो तरह के ही कपड़े बेचना शुरू करें और जब आपको लगने लगे कि अब हमारी बिक्री अच्छी होने लगी है तब आप और भी तरह के कपड़े अपनी दुकान में बेच सकते हैं।

कपड़े की दुकान के लिए माल कहां से खरीदें? (Garments Business Hindi)

कपड़े की दुकान हो या फिर कोई और व्यापार सामान आपको हमेशा एक होलसेलर से ही लेनी चाहिए। इससे आप बहुत कम रुपए निवेश करके अच्छे खासे सामान खरीद सकते हैं। आप राजस्थान गुजरात कोलकाता दिल्ली आदि जैसे शहरों से सामान को सस्ते दामों में मंगवा सकते हैं। 

इसके अलावा जिस भी शहर में आप रह रहे हैं वहां आपको एक न एक होलसेलर मार्केट मिल ही जाएंगे। बस आपको पता लगाने की जरूरत है। आप अपने हिसाब से जिस भी तरह के कपड़े आपको खरीदने हैं तथा जितना आपका बजट है उस अनुसार आप कपड़े की खरीदारी कर सकते हैं। 

अगर आपको इसमें बहुत ज्यादा जानकारी नहीं है तो इसके लिए आप किसी जानकार व्यक्ति को भी अपने साथ ले जा सकते हैं। मेरे कहने का यह मतलब है कि जो भी व्यक्ति इस व्यापार में पहले से है आप उसकी मदद से भी कपड़ों की खरीदारी कम दाम में कर सकते हैं।

👉 नाश्ते की दुकान कैसे खोलें? पूरी जानकारी हिंदी में

कपड़ों के व्यापार में बिक्री बढ़ाने के तरीके (Garments Shop Business In Hindi)

किसी भी व्यापार को शुरू करने के बाद सबसे ज्यादा मुश्किल काम होता है व्यापार को तेजी से आगे बढ़ाना। मैंने ऐसे बहुत से व्यापार देखे हैं जो शुरू तो कर दिए जाते हैं पर उनकी मार्केटिंग तथा प्रमोशन अच्छी ना होने की वजह से बिक्री ही नहीं होती है और इसका खामियाजा उन्हें अपनी दुकान या व्यापार को बंद करके भुगतना पड़ता है।

इन्हीं सब बातों को ध्यान में रखते हुए हमने यहां पर आपको कुछ तरीके बताएं हैं जिनकी मदद से आप अपने कपड़े की दुकान के व्यापार में कपड़ों की बिक्री बढ़ा सकते हैं। 

• कपड़े की दुकान के बिजनेस में बिक्री बढ़ाने के लिए सबसे पहली और जरूरी चीज होती है ट्रेंड के हिसाब से चलना। जी हां आपने बिल्कुल सही पढ़ा है। कपड़ों का चलन समय के साथ बदलता रहता है। इसीलिए आपको भी समय के साथ जो भी कपड़े की डिमांड ज्यादा है उसकी स्टॉक भी ज्यादा रखनी है। यहां आपको एक बात का ख्याल रखना है कि इतने भी ज्यादा स्टॉक नहीं रखने हैं कि बाद में आपको घाटा सहना पड़े। Trend के हिसाब से चलें और जरूरत के हिसाब से ही कपड़ों का Stock रखें।

• अपने गारमेंट शॉप की सेलिंग बढ़ाने के लिए आप जब भी त्यौहार या कोई शुभ दिन हो आपको डिस्काउंट या फिर कोई ऑफर अपने ग्राहकों को प्रदान करनी है। जैसे अगर आप कोई शर्ट आमतौर पर ₹500 में बेचते हैं तो उसे ऑफर के रूप में ₹450 या फिर ₹400 में बेचें। ऐसा करने से ग्राहक आपकी दुकान की ओर आकर्षित होंगे और खरीदारी करने के लिए जरूर आएंगे।

• यह Market Strategy बहुत दिनों से चली आ रही है और इसका फायदा भी बहुत ज्यादा होता है और वो है Free या Two In One ऑफर। देखिए ग्राहक जब भी कोई सामान खरीदने जाता है तो वो यह देखता है कि कम रुपए लगाकर कितने ज्यादा से ज्यादा सामान खरीदे जा सकते हैं। ऐसे में उन्हें कोई भी फ्री या टू इन वन वाली सामान या कपड़े दिखते हैं तो उन्हें तुरंत ले लेता है। आपको भी यही तरीका अपनाना है और अपने दुकान का सेल बढ़ाना है।

• बिक्री बढ़ाने का एक और बहुत अच्छा तरीका है और वो है अपने ग्राहक से अच्छे से बात करना। आपने बहुत से दुकानों से खरीदारी की होगी। वहां आपको ऐसे भी मालिक या स्टाफ देखने को मिले होंगे जो बहुत खड़ूस होते हैं या फिर ग्राहक से अच्छे से बात नहीं करते हैं। अब मेरा आपसे यह सवाल है कि क्या आप ऐसी दुकान में दोबारा जाना चाहेंगे जहां के मालिक व स्टाफ अच्छे से बात नहीं करते हैं? नही ना। इसलिए आपको अपने ग्राहक से हमेशा अच्छे से बात करनी है। फिर चाहे वो आपकी दुकान से सामान खरीदे या फिर ना खरीदे इसे कोई फर्क नहीं पड़ता है। 

• आज के समय में इंटरनेट का चलन बहुत ज्यादा बढ़ गया है। कई लोग इंटरनेट का फायदा उठाकर रोजाना के हजारों, लाखों रुपए कमाते हैं। सुनने में आपको यह मजाक लग रहा होगा पर यह सच बात है। आप भी ऑनलाइन अपनी वेबसाइट या फिर अमेजॉन और फ्लिपकार्ट सेलर बनकर अच्छी खासी कमाई कर सकते हैं। ऐसा करने से आपकी दुकान से भी बिक्री होगी और ऑनलाइन भी आपको अच्छे खासे ऑर्डर आएंगे।

• इस व्यापार में ज्यादा से ज्यादा ग्राहकों अपनी दुकान पर खींचने के लिए आपको इसकी अच्छी तरीके से प्रमोशन भी करनी होगी। प्रमोशन करने के लिए आप ऑनलाइन तथा ऑफलाइन तरीकों का इस्तेमाल कर सकते हैं। जगह-जगह पंपलेट बटवाकर, चौक चौराहे पर बैनर और होर्डिंग लगवा कर। इसके अलावा आप ऑनलाइन लोकप्रिय सोशल मीडिया एप्स का इस्तेमाल कर सकते हैं जैसे फेसबुक, गूगल मैप्स, जस्ट डायल, इंस्टाग्राम आदि।

उम्मीद है हम आपको सभी जानकारी अच्छे से दे पा रहे हैं कि कपड़े की दुकान कैसे खोलें? या कपड़े का व्यापार कैसे शुरू करें?

कपड़े के व्यापार में Competition से बचें :- 

अब आप कपड़े की दुकान का बिजनेस शुरू करने जा रहे हैं तो आपको यह पता होना चाहिए कि इस व्यापार में सबसे ज्यादा Competition है। आपको हर गली मोहल्ले, चौक चौराहे पर एक कपड़े की दुकान जरूर दिख जाएगी। फिर भी आप एक कपड़े की दुकान खोलने के लिए सोच रहे हैं तो क्या आप में वो बात है जो इतने Competition रहने के बावजूद अपने व्यापार को आगे बढ़ा दे। 

इसलिए मैंने आपको बताया था कि कपड़े की दुकान खोलने के लिए सबसे पहले आपको एक बहुत ही अच्छी जगह की तलाश करनी है जहां पर भीड़ भाड़ होने के साथ-साथ अगल-बगल बहुत ज्यादा कपड़े की दुकान ना हो। कंपटीशन से बचने की कोई सीधा समाधान नहीं है। इसके लिए आपको अपनी दिमाग लगानी होगी। 

हमने यहां आपको कुछ Points बताएं हैं जिन पर आपको ध्यान देना है। उम्मीद है आपको इससे काफी फायदा होगा। 

• ग्राहक से हमेशा अच्छे से बर्ताव करें। अगर वो आपसे सामान की खरीदारी नहीं करते हैं तब पर भी उनसे अच्छे से बात करें। अपने कहीं ना कहीं जरूर सुना होगा कि ग्राहक भगवान का रूप होता है। 

• आपने एक व्यापार शुरु किया है जिसे ग्राहक की जरूरत है इसीलिए अपने अंदर कभी भी घमंड ना आने दें। फिर चाहे आप कितने भी बड़े कपड़े के व्यापारी बन जाएं।

• अगर आपने जिस भी जगह कपड़े की दुकान ली है वहां अगल-बगल पहले से कपड़े की दुकान मौजूद है तो आपको बिना ज्यादा फायदा (Profit) रखे सामान को बेचना है। 

• आपको बहुत बार बिना फायदा रखें भी किसी सामान को बेचना पड़ेगा। इससे आपको बहुत ज्यादा नुकसान नहीं होगा क्योंकि जब आप ग्राहक को बिना फायदा रखें सामान देंगे तब वो ग्राहक सदा आपका ही बना रहेगा और वो अगली बार आएगा तो साथ में एक दो और ग्राहक भी जरूर लाएगा। हालांकि ऐसा आपको हर बार नहीं करना है। इस तरीके को आप तभी इस्तेमाल करें जब ग्राहक नाराज होकर लौटने लगे।

• कपड़ों की Quality में कोई भी समझौता ना करें। ग्राहक को विश्वास दिलाएं कि आपका सामान बढ़िया है इसीलिए थोड़ा सा रेट भी ज्यादा है। 

• ग्राहक की जरूरत को समझे। जो ग्राहक चाहता है उसे आपको बेचना है ना कि जो आप चाहते हैं उसे आपको बेचना है। इस बात का आप हमेशा ध्यान रखें।

• अगर आप और ज्यादा रुपए निवेश कर सकते हैं तो ग्राहक को कुछ सुविधाएं जरूर दें जैसे फिल्टर किया हुआ पानी का व्यवस्था, ग्राहक के बैठने के लिए 1-2 कुर्सी आदि।

👉 महिलाओं के लिए घर से शुरू करने वाले व्यापार 

ग्राहक की जरूरत को समझें (Garments Business In Hindi)

रेडीमेड कपड़े की दुकान कैसे खोलें - इस व्यापार में आगे तक बने रहने के लिए आपको यह जानना बहुत जरूरी है की ग्राहक क्या चाहते हैं? अगर आपने इस सवाल का जवाब जान लिया तो कपड़े के बिजनेस में सफल होने से आपको कोई नही रोक सकता है। हमेशा कुछ अलग करने की सोचें जो आपको लगे कि ग्राहक इसे पसंद करेगा। 

आपको यह पहचानना होगा कि ग्राहक की जरूरत क्या है? और क्या खोज रहा है? यह सभी Area के मार्केट की अलग अलग हो सकती है। युवा ज्यादातर Western और Trending मे चल रहे कपड़ों को पहनना ज्यादा पसंद करते हैं। 

इसी तरह महिलाएं ज्यादातर सलवार सूट और साड़ी की खरीदारी ज्यादा करती हैं। आप अपने Collection के हिसाब से अंदाजा लगा सकते हैं की ग्राहक क्या खोज सकता है? और क्या खोज रहा है? आप दूसरे दुकानदारों से भी सीख सकते हैं की आपके आपके मार्केट में किस तरह के कपड़े की डिमांड ज्यादा है। 

अब जैसे बहुत सी महिलाएं ऐसी भी होती हैं जो कपड़े खरीदने तो जाती हैं इसके अलावा भी वो चूड़ी, बिंदी, आदि खरीद कर चली आती हैं। तो अगर आप इन सभी सामानों को भी अपनी दुकान में रखते हैं तो अच्छी कमाई होगी और ग्राहक भी बनेंगे।

गारमेंट्स के व्यापार में Risk :-

जैसा कि मैंने आपको अभी बताया है इस व्यापार में कंपटीशन हद से ज्यादा है। इसके अलावा भी आपको इस व्यापार में कई Risk होते हैं जिन्हें आप को जानना जरूरी है।

• इस व्यापार को शुरू करने के बाद आपको इस बात का ध्यान रखना है कि ठंडे के कपड़े ठंडे में ही बिक जाएं और गर्मी के कपड़े गर्मी में ही बिक जाए वरना आपको काफी ज्यादा नुकसान सहना पड़ेगा। 

• आपके मार्केट में और भी बहुत सारे कपड़े के दुकान होंगे यहां आपको एक बात का ध्यान रखना है कि आपके कपड़े के दाम उनके दुकान के कपड़े के दाम से ज्यादा नहीं होने चाहिए। इससे आपका मार्केट पर गलत इंप्रेशन पड़ेगा तथा बिक्री भी Down हो जायेगी।

• हमेशा अपने अगल-बगल के कपड़े के दुकान से सीखें। वह क्या गलती कर रहे हैं उसे आपको नहीं दोहराना है। आप उनसे हमेशा एक कदम आगे चलें। इसके लिए आप अपने दिमाग का इस्तेमाल करें।

• आगे का समय किसी ने नहीं देखा है। इसलिए आपको बैकअप के रूप में आने वाले 6 महीने का खर्च पहले से निकाल कर रखना है। ये 6 महीने के खर्च में आपको एक भी रुपए नहीं निकालना है। यह पूरी तरह से हमेशा के लिए जमा रहेंगे और जब जरूरत पड़ेगी तब आप इसे निकाल सकते हैं।

• बिजनेस में तेजी लाने के लिए और कंपटीशन से बचने के लिए आप इसकी अच्छी तरीके से प्रचार प्रसार करें। यह आपको इस बात का भी ध्यान रखना है कि फालतू खर्च ज्यादा ना हो।

• अपना एक समय निर्धारित कर ले। समय पर हीं दुकान खोलें और समय पर हीं दुकान बढ़ाएं। इससे ग्राहक को भी पता रहेगा कि आपका दुकान कब खुलता है और कब नहीं।

• शुरुआती समय में आप एक स्टाफ से ज्यादा ना रखें क्योंकि ज्यादा स्टाफ रखने से आप का खर्च भी ज्यादा बढ़ेगा जो आपको घाटे में ला सकता है।

👉 किराने की दुकान कैसे खोलें? हिंदी में जानें

कपड़े के बिजनेस में कितना प्रॉफिट होता है?

यह एक सबसे फायदेमंद बिजनेस में से एक है। जिसे जो चाहे वो शुरू कर सकता है। फिर चाहे आप महिला हों या पुरुष इससे कोई फर्क नहीं पड़ता है। 

Readymade कपड़े की दुकान कैसे खोलें या कपड़े का व्यापार कैसे शुरू करें? इसमें सबसे ज्यादा यही पूछा जाता है कि कपड़े की व्यापार में कितना फायदा है तो मैं आपको बता दूं अगर आप एक-डेढ़ लाख रुपए निवेश करके इस व्यापार को शुरू कर रहे हैं तो महीने के ₹20,000 से ₹30,000 तक शुरुआती समय में कमा लेंगे। 

ज्यादा प्रॉफिट कमाने के लिए आपको अपने कपड़े की बिक्री को भी बढ़ाना होगा। इसके लिए मैंने आपको पहले ही बता दिया है कि क्या करना है। फिर जैसे उसे आप की कपड़े की बिक्री बढ़ती जाएगी आपकी कमाई भी दुख नहीं होती जाएगी क्योंकि कपड़े के व्यापार में खरीद से सीधा दुगना मुनाफा होता है इसलिए यह कम लागत में सबसे ज्यादा मुनाफा कमाने वाला व्यापार है।

आज आपने जाना कपड़े की दुकान कैसे खोलें? हिंदी में

तो दोस्तो आखिर में मैं आपको यही बोलना चाहूंगा कि अगर आप किसी व्यापार को शुरू करके उसे अच्छे से चलाने की काबिलियत रखते हैं तो कपड़े की दुकान का व्यापार जरूर शुरू करें। इस व्यापार में आपको बहुत आगे तक ले जाने की क्षमता है बस आपको इसे सही बिजनेस प्लान के साथ शुरू करना है। 

उम्मीद करता हूं आपको आज का यह पोस्ट (रेडीमेड कपड़े की दुकान कैसे खोलें?) पसंद आया होगा। अगर आपको और भी नए तथा फायदेमंद बिजनेस आइडियाज की तलाश है तो आप बिल्कुल सही जगह पर है। क्योंकि इस ब्लॉग पर सिर्फ बिजनेस तथा पैसा कमाने के बारे में हीं जानकारी दी जाती है।

अगर आपको यह पोस्ट (Readymade Garments Business In Hindi) पसंद आया है तो अपने दोस्त रिश्तेदार तथा परिवार के साथ ही से शेयर करना ना भूलें इससे आपके करीबी लोग भी जान पाएंगे कि कम लागत में कौन सा बिजनेस शुरू करें। अगर आपको इस पोस्ट तथा बिजनेस से जुड़े कोई भी सवाल पूछने हैं तो कमेंट करें। हमें आपकी सहायता करने में खुशी होगी।

Post a Comment

If You Have Any Doubts, Please Let Me Know.

और नया पुराने